12 राशियों के नाम और अक्षर

ज्योतिष में प्रत्येक व्यक्ति के नाम का बहुत महत्व होता है क्योंकि नाम के अनुसार व्यक्ति के व्यक्तित्व और राशिफल का पता चलता है प्रत्येक नाम किसी एक राशि से जुड़ा हुआ होता है। ज्योतिष के अनुसार राशियां कुल 12 प्रकार की होती हैं। यहाँ हम आपको सभी 12 राशियों से जुडी कुछ सामान्य जानकारी … Read more12 राशियों के नाम और अक्षर

विलोम शब्द का अर्थ | हिंदी सूची | PDF

दोस्तों आज हम जानेंगे विलोम शब्द के बारे में की यह क्या होता है और साथ मे देखेंगे इसकी कुछ उदाहरण। ऐसे तो यह इतना कठिन नही है लेकिन फिर भी जो लोग नही जानते उनके लिए यह आर्टिकल बहुत मददगार होगा। विलोम शब्द का अर्थ क्या है? किसी शब्द का विपरीत यानि उल्टा अर्थ … Read moreविलोम शब्द का अर्थ | हिंदी सूची | PDF

यदा यदा ही धर्मस्य फुल श्लोक हिंदी अर्थ

श्रीमद्भागवत गीता का नाम तो आपने सुना होगा, इस उपदेश को महाभारत में भगवान श्री कृष्ण दिया था। श्रीमद्भागवत गीता का ही एक श्लोक है जो बहुत मशहूर है आपने इसे बहुत सी जगहों पे पढ़ा और सुना होगा परन्तु हो सकता है आपको इसका मतलब समझ में न आया हो क्योंकि ये संस्कृत में है, इसीलिए हम यहां … Read moreयदा यदा ही धर्मस्य फुल श्लोक हिंदी अर्थ

फुल फॉर्म: DM, SDM, DSP, DC, SDO, TEHSILDAR में अंतर

दोस्तो आज हम आपको SDM, DM, DC, DSP, SDO, BDO, TEHSILDAR इन सभी पदों के बारे मैं बताएंगे और इन सब मैं क्या अंतर है यह बताएंगे। DM, SDM, DSP, DC, SDO Full form in hindi DM– DISTRICT MAGISTRATE (जिला अधिकारी) SDM– SUB DIVISIONAL MAGISTRATE (उप प्रभागीय न्यायाधीश) DC– DISTRICT COLLECTOR (जिला कलेक्टर) DSP– DEPUTY … Read moreफुल फॉर्म: DM, SDM, DSP, DC, SDO, TEHSILDAR में अंतर

भारत के राज्य और उनकी राजधानियाँ 2020

वर्तमान में भारत में कुल 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश हैं लेकिन आपको सभी 28 राज्यों की राजधानी पता है? अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें क्यूंकि यहां हम आपको सभी 28 राज्यों और उनकी राजधानी की लिस्ट बताने वाले हैं। भारत के राज्य और उनकी राजधानियाँ … Read moreभारत के राज्य और उनकी राजधानियाँ 2020

ईशान आग्नेय वायव्य नैऋत्य कोण कैसे पहचाने

अगर आप घर को वास्तु शास्त्र के अनुरूप बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको दिशाओं का सही ज्ञान होना बहुत आवश्यक है तभी आप सही दिशा में सही चीज को व्यवस्थित कर पाएंगे। सामान्यतः दिशाएं चार प्रकार की होती है – पूरब, पश्चिम, उत्तर, दक्षिण लेकिन क्या आपको पता है इसके अलावा 4 दिशाएं … Read moreईशान आग्नेय वायव्य नैऋत्य कोण कैसे पहचाने