12 वीं के बाद पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों की लिस्ट


दोस्तों यदि मेडिकल कोर्स करना आपका भी सपना है तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत उपयोगी है क्योंकि हम आपको पैरामेडिकल कोर्स के बारे में बताने वाले हैं जिसे आप कर सकते हो। यह कोर्स करने के बाद आप हॉस्पिटल में सहायक के रूप में काम कर सकते हो, तो चलिए दोस्तों विस्तार से पैरामेडिकल के बारे में जानते हैं।

पैरामेडिकल पाठ्यक्रम

पैरामेडिकल क्या होता है?

पैरामेडिकल विज्ञान से जुड़ा एक विषय है, यह कोर्स करने के बाद एक सहायक चिकित्सक बन जाते हो, यह एक बहुत बड़ा अवसर है जिसमे बहुत सारे कोर्स होते हैं जिनको तीन हिस्सों में बांटा गया है, डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्स और सर्टिफिकेट कोर्स। पैरामेडिकल के अंतर्गत  फ्रेक्चर प्रबंधन, रीढ़ की हड्डी, जलने की दुर्घटना आदि जैसे इलाज को किया जाता है।

पैरामेडिकल कोर्स कैसे करें?

पैरामेडिकल कोर्स करने के लिए सबसे पहले आपको ये चुनाव करना होगा की आप इसमें कौनसा कोर्स करना चाहते हो, नीचे इसके अलग अलग कोर्स की लिस्ट दी गई है, इसके अलावा आपकी योग्यता क्या होनी चाहिए कोर्स करने के लिए इसके बारे में भी नीचे बताया गया है।

योग्यता: यदि आपकी शैक्षणिक योग्यता की बात करें तो पैरामेडिकल कोर्स के लिए आपका 10 वीं और 12 वीं किया होना चाहिए क्योंकि यह एक मेडिकल से जुड़ा हुआ कोर्स तो आपकी 12वीं जीवविज्ञान विषय से पास की होनी चाहिए।

बैचलर डिग्री पैरामेडिकल कोर्स

फिजियोथेरेपी

व्यावसायिक चिकित्सा

ओटीटी (ऑपरेशन थियेटर टेक्नोलॉजी)

डायलिसिस टेक्नोलॉजी

एमएलटी (मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी)

एक्स-रे प्रौद्योगिकी

रेडियोग्राफी

चिकित्सा इमेजिंग प्रौद्योगिकी

मेडिकल रिकॉर्ड प्रौद्योगिकी

नेत्र प्रौद्योगिकी

ऑडियोलॉजी और स्पीच थेरेपी

यह सभी कोर्स स्नातक डिग्री पैरामेडिकल कोर्स है, इसके अलावा बैचलर डिग्री के लिए अन्य कॉर्स भी जो आप कर सकते हो।

 

डिप्लोमा पैरामेडिकल कोर्स

फिजियोथेरेपी में डिप्लोमा

व्यावसायिक चिकित्सा में डिप्लोमा

DOTT (ऑपरेशन थियेटर टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा)

डायलिसिस टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

डीएमएलटी (मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा)

एक्स-रे टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

रेडियोग्राफी में डिप्लोमा

मेडिकल इमेजिंग टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

मेडिकल रिकॉर्ड टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

नर्सिंग देखभाल सहायक में डिप्लोमा

ऑप्थेलमिक टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

डीएचएलएस (हियरिंग लैंग्वेज एंड स्पीच में डिप्लोमा)

एनेस्थीसिया टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा

डेंटल हाइजीनिस्ट में डिप्लोमा

रूरल हेल्थ केयर में डिप्लोमा

सामुदायिक स्वास्थ्य देखभाल में डिप्लोमा

ए एन एम

जीएनएम

यह पैरामेडिकल के डिप्लोमा कोर्स है जो एक से तीन साल कि अवधि तक के डिप्लोमा कोर्स है।

 

सर्टिफिकेट पैरामेडिकल कोर्स

एक्स-रे तकनीशियन

प्रयोगशाला सहायक / तकनीशियन

दंत चिकित्सा सहायक

ऑपरेशन थियेटर असिस्टेंट

नर्सिंग देखभाल सहायक

ईसीजी और सीटी स्कैन तकनीशियन

डायलिसिस तकनीशियन

गृह आधारित स्वास्थ्य देखभाल

ग्रामीण स्वास्थ्य देखभाल

एचआईवी और परिवार शिक्षा

पोषण और चाइल्डकैअर

यह पैरामेडिकल सर्टिफिकेट कोर्स 6 महीने से 2 साल तक के हो सकते हैं, यह आप 10वी के बाद कर सकते हो।

 

पैरामेडिकल कोर्स करने के बाद आपके लिए जॉब के लिए एक अच्छा अवसर खुल जाता है, पैरामेडिकल के छात्रों की हॉस्पिटल में बहुत मांग है, जिससे आप यह कोर्स करने के बाद एक चिकित्सक सहायक के रूप में कार्य कर सकते हो। इसके अलावा आपको सरकारी नोकरी के अवसर भी मिलते हैं, जिससे आप अपना अच्छा करियर बना सकते हो।

शेयर करें

Leave a Comment